Action Punjab

Breaking News

How to manage stretch marks during and post-pregnancy


1 of 1

How to manage stretch marks during and post-pregnancy - Health Tips in Hindi




नई दिल्ली। गर्भावस्था के दौरान और इसके बाद पेट व अन्य अंगों पर खिंचाव के निशान (स्ट्रेच मार्क्‍स) का होना बेहद आम है। हालांकि बेहतर ढंग से त्वचा की देखभाल कर इनसे छुटकारा पाया जा सकता है। गर्भावस्था की दूसरी तिमाही के दौरान शरीर में कई तरह के बदलाव देखने को मिलते हैं, ऐसे में अकसर पेट, जांघों, स्तन और कूल्हों पर ये निशान देखने को मिलते हैं।

स्ट्रेच मार्क्‍स के होने से त्वचा ढीली पड़ जाती है और पर्याप्त नमीं के अभाव में त्वचा रूखी भी हो जाती है, जिससे खुजली की समस्या पैदा होना आम है। हालांकि बच्चे के जन्म के बाद वक्त रहते सही स्किनकेयर रूटीन से ये हल्के पड़ने लगते हैं और धीरे-धीरे गायब भी हो जाते हैं।

हिमालया ड्रग कंपनी में रिसर्च एंड डेवलपमेंट टीम से जुड़ीं आयुर्वेद विशेषज्ञ डॉ. प्रतिभा बाबशेत ने कहा, “गर्भावस्था के दौरान त्वचा में कई तरह के बदलाव आते हैं, ऐसे में नियमित रूप से त्वचा की देखभाल करने से भी कोई खास फर्क नहीं पड़ता। इस वक्त त्वचा के लिए पर्याप्त पोषण की जरूरत को समझें और इसी के अनुरूप अपनी खानपान की शैली पर ध्यान दें।”

स्ट्रेच मार्क्‍स या त्वचा की झुर्रियों के लिए उन्होंने दो टिप्स सुझाए हैं। पहला : रात में सोने से पहले मसाज और नहाने के बाद मॉइश्चराइजर लगाएं।

डॉ. प्रतिभा ने आगे कहा, “मसाज से बॉडी में खून का प्रवाह काफी अच्छे से होता है, जिससे झुर्रियों के निशान मिटने लगते हैं। नई मां बनी महिलाएं रात में सोने से पहले मसाज को अपनी स्किनकेयर रूटीन का हिस्सा बना सकती हैं। इसके लिए वे अपने हिसाब से जैतून, बादाम, तिल का तेल या व्हीट जर्म ऑयल का इस्तेमाल कर सकती हैं।”

उनके मुताबिक, नहाने के बाद मॉइश्चराइजर को बॉडी में अप्लाई करने से त्वचा में नमीं की सही मात्रा बरकरार रहती है, जिससे बॉडी सॉफ्ट तो रहती ही है, खुजली होने की समस्या भी दूर होती है और झुर्रियों के निशान भी मिटते जाते हैं।

उन्होंने बताया कि मॉइश्चराइजर का एक बेहतर विकल्प भी बताया, जिसके इस्तेमाल से त्वचा को खूब लाभ पहुंचाया जा सकता है।

डॉ. प्रतिभा ने कहा, “आमंड ऑयल, व्हीट जर्म ऑयल, ऑलिव ऑयल, मैंगो बटर, कोकुम बटर, शिया बटर और सेंटेला, अनार व मुलेठी जैसे हर्ब्स के मिश्रण से झुर्रियों को स्वाभाविक रूप से कम किया जा सकता है।”

इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, “स्किनकेयर के अलावा एक हेल्दी डायट और नियमित एक्सरसाइज करने की भी सलाह दी जाती है। पर्याप्त मात्रा में पानी के सेवन से त्वचा में नमी बनी रहती है। इसी के साथ बाहर के जंक फूड और कैफिन को अपनी डायट से दूर रखना ही फायदेमंद है।” (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें – अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे





Source link

Other From The World

Related Posts

Treading News

Latest Post