दो दिन बाद भी बालक का पता नहीं

0
1



रुपये देने हैं लेकिन कितने यह तय नहीं हुआ। अपहरणकर्ता ने बस इतना बोला कि जितने ज्यादा से ज्यादा हो जाएं उतने करो। इसके बाद बालक के माता-पिता अपहरणकर्ता के फोन का इंतजार करते रहे, लेकिन शनिवार को फोन नहीं आया।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here