राजधानी लखनऊ चतुर्दिक विकास की ओर अग्रसर: योगी आदित्यनाथ

0
1


लखनऊ। राजधानी लखनऊ सहित प्रदेश की स्वास्थ्य एवं नागरिक सुविधाओं के विकास में मंगलवार को एक स्वर्णिम अध्याय उस समय जुड़ा, जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रक्षा मंत्री व लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह ने संयुक्त रूप से विभिन्न परियोजना का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इस मौके पर वर्ग माध्यम से लखनऊ में सुपर स्पेशियलिटी कैंसर संस्थान और चिकित्सालय के सर्जिकल आंकोलिंडी, रेडिएशन आंकोलिंटी और ओपीडी सेवाओं का विम्ब किया गया। वहीं कैंसर संस्थान के ओपीडी ब्लाकक और दो नवनिर्मित फ्लाई ओवर का लोकार्पण और सुपर स्पेशियलिटी कैंसर संस्थान और अस्पताल के आवासीय परिसर का शिलान्यास भी किया गया।

कैंसर संस्थान-चिकित्सालय दूसरे चरण में कुल 1,250 बिस्तर उपलब्ध होंगे
इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राजधानी लखनऊ चतुर्दिक विकास की ओर अग्रसर है। इन परियोजनाओं के लोकार्पण से राजधानी लखनऊ और प्रदेश का गौरव बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि सुपर स्पेशियलिटी कैंसर संस्थान और चिकित्सालय की सर्जिकल आंकोलिंडी, रेडिएशन आंकोलिंटी और ओपीडी सेवाओं का स्वस्थख किया जा रहा है। इसके साथ ही, 54 बेड की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है। यह क्षमता निकट भविष्य में प्रथम चरण में 750 बिस्तर के साथ दूसरे चरण में कुल 1,250 बिस्तर की जाएगी।

टाटा ट्रस्ट के पदाधिकारियों और मेमोरियल अस्पताल का सकारात्मक योगदान
मुख्यमंत्री ने कहा कि कैंसर के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए एक नए कैंसर संस्थान की आवश्यकता थी। यह सुपर स्पेशियलिटी कैंसर संस्थान और चिकित्सालय इस आवश्यकता को पूरा करेगा। लखनऊ के इस कैंसर संस्थान की कार्य प्रणाली टाटा मेमोरियल अस्पताल, मुम्बई की तर्ज पर संचालित होगी। उन्होंने कहा कि टाटा ट्रस्ट के पदाधिकारियों और मेमोरियल अस्पताल ने इस कैंसर संस्थान के निर्माण में सकारात्मक योगदान दिया है।

कोरोना के बावजूद पूरी तरह से तत्परता से किया गया फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य
मुख्यमंत्री ने कहा कि लोक निर्माण विभाग ने लखनऊ महानगर में नवनिर्मित 02 फ्लाई ओवर का निर्माण कार्य कोरोना के बावजूद पूरी तत्परता से किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व व मार्गदर्शन में कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के संक्रमण को नियंत्रित करने का कार्य उत्तर प्रदेश में सफलतापूर्वक किया गया है। सबसे बड़ी आबादी का राज्य होने के बावजूद रिकवरी रेट 92 प्रतिशत से अधिक हुआ है। पटजिट सभी पास और सीएफआर न्यूनतम हुई है। लेकिन जब तक कोरोना की वैक्सीन नहीं आती, तब तक ई दवाई नहीं तो ढिलाई नहीं ’सिद्धान्त पर लगे हुए कार्य समाप्त हो जाएंगे।

लखनऊ स्मार्ट सिटी व मेट्रोपॉलिटन सिटी के रूप में विकसित हो रहे हैं
मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ स्मार्ट सिटी व मेट्रोपॉलिटन सिटी के रूप में विकसित हो रहा है। यहां का टर्मिनल अन्तरराष्ट्रीय स्तर का है, जिसे मेट्रो रेल सेवाओं से जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि लखनऊ का शहीद पथ राजधानी और प्रदेश की लाइफ लाइन है। यह परिकल्पना और अधिकार राजनाथ सिंह की है। इसी प्रकार, आउटर रिंग रोड पर भी कार्य चल रहा है, जो पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे और आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के जुड़ने से विकास का नया अध्याय लिखेगा।

उन्होंने कहा कि देश रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है। सुरक्षा की भावना मजबूत हुई है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि लखनऊ के विकास के लिए निर्माणाधीन अन्य परियोजनाएं भी अपने निर्धारित समय में पूरी होंगी। आउटर रिंग रोड प्रोजेक्ट दिसंबर, 2021 तक पूरा करने का लक्ष्य इस दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि फ्लाई ओवर के निर्माण से ट्रैफिक की बोली । सुगमता होगी। जनता को ट्रैफिक गति से राहत मिलेगी। आर्थिक गतिविधियों के अच्छे से संचालित होंगे। उन्नति का मार्ग प्रशस्त होगा।

ये फ्लाई ओवर का निर्माण रिकाॅर्ड अवधि में पूरा हुआ है। कुकरैल फ्लाई ओवर के बाद इन फ्लाई ओवर्स से विकास गतिविधियों को तेजी से आएगी। ये दोनों फ्लाई ओवर्स के निर्माण से गुरु गोविन्द सिंह मार्ग, हुसैनगंज, बाँसण्डी चौराहा, नाका हिंडोला चौराहा, चारबाग, डीएवी कांगे, तालकटोरा और राजेन्द्र नगर और राजाजीपुरम, अग्रधरगंज, चौक, कारखास, ऐशबाग, नाशिक, हयातोला, हयातोला आरडीएसओ, आलमनगर, टुड़ियागंज और राजेन्द्र नगर की घनी आबादी में सुगम यातायात की सुविधा उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि आउटर रिंग रोड का कार्य भी तेजी से चल रहा है, जिसे दिसंबर, 2021 तक पूरा करने का लक्ष्य है।

इलाज के लिए दिल्ली, मुम्बई, चेन्नई जाने की भाग दौड़ खत्म हो जाएगी
रक्षा मंत्री ने कहा कि लखनऊ स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट पर भी कार्य किया जा रहा है। लखनऊ का सुपर स्पेशियलिटी कैंसर संस्थान जनता की अपेक्षाओं को पूरा करेगा। अब लोगों को इलाज के लिए दिल्ली, मुम्बई, चेन्नई जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। कम कीमत पर उन्हें चिकित्सा सुविधा उपलब्ध होगी। आयुष्मान भारत योजना के तहत गरीबों को मुफ्त इलाज की सुविधा मिली है।

लखनऊ विकास के रास्ते पर अग्रसर होगा
कार्यक्रम में वीडियो काॅफ्रफ्रेंसिंग के माध्यम से सम्मिलित हुए उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि फ्लाई ओवर्स और कैंसर संस्थान का लोकार्पण लखनऊ और प्रदेश के विकास के लिए बेहद महत्वपूर्ण होगा। उड़ ओवर्स से ट्रैफिक जाम की समस्या से मुक्ति मिलेगी। लखनऊ विकास के पथ पर अग्रसर होगा। कोरोना के संकट के बावजूद फ्लाई ओवर्स का निर्माण रिकाएर्ड अवधि में पूरा किया गया है।
इस अवसर पर क्वालिटी काउंसिल ऑफ इण्डिया के डाए। रवि सिंह और सुपर स्पेशियलिटी कैंसर संस्थान के निदेशक डाॅ। शालीन कुमार के मध्य एमओयू का वर्ग माध्यम से बातचीत-प्रदान किया गया।

यह खबर भी पढ़ें: ओपिनियन पोल: बिहार में एनडीए को स्पष्ट बहुमत





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here