Action Punjab

Breaking News

Pakistan Army Chief Bajwa’s statement on the relationship between the two countries, said – forget India and Pakistan and move forward | दोनों देशों के रिश्तों पर पाक आर्मी चीफ बाजवा का बयान, बोले- भारत और पाकिस्तान अतीत को भुलाकर आगे बढ़ें


  • Hindi News
  • International
  • Pakistan Army Chief Bajwa’s Statement On The Relationship Between The Two Countries, Said Forget India And Pakistan And Move Forward

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इस्लामाबाद3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल बाजवा  गुरुवार को इस्लामाबाद सुरक्षा वार्ता को संबोधित किया था। बाजवा का कहना है, दोनों देशों के बीच कुछ अनसुलझे मुद्दे की वजह से अब तक विकास और शांति बहाल नहीं हो सकी है। - फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल बाजवा गुरुवार को इस्लामाबाद सुरक्षा वार्ता को संबोधित किया था। बाजवा का कहना है, दोनों देशों के बीच कुछ अनसुलझे मुद्दे की वजह से अब तक विकास और शांति बहाल नहीं हो सकी है। – फाइल फोटो

भारत और पाकिस्तान के लिए यह समय अतीत को भूलने और आगे बढ़ने का है। यह बयान पाकिस्तानी सेना के जनरल चीफ कमर जावेद बाजवा की तरफ से आया है। गुरुवार को वह इस्लामाबाद में एक सुरक्षा वार्ता को संबोधित कर रहे थे। बाजवा का कहना है कि दोनों देशों के बीच कुछ अनसुलझे मुद्दों की वजह से अब तक विकास और शांति बहाल नहीं हो सकी है। अगर दोनों देश साथ आते हैं, तो इससे दक्षिण और मध्य एशिया में विकास की संभावनाओं को खोलने में मदद मिलेगी। इससे पहले भारत ने पिछले महीने कहा था कि वह पाकिस्तान के साथ आतंक, दुश्मनी और हिंसा मुक्त माहौल के साथ सामान्य पड़ोसी संबंधों की आकांक्षा रखता है।

कश्मीर में एक अनुकूल वातावरण बनाना होगा: बाजवा

बाजवा ने आगे कहा कि हमारे पड़ोसी को खासतौर पर कश्मीर में एक अनुकूल वातावरण बनाना होगा। सबसे अहम मुद्दा कश्मीर है। यह समझना महत्वपूर्ण है कि शांतिपूर्ण तरीकों से कश्मीर विवाद का हल निकले। बिना इसके इस क्षेत्र में कोई भी पहल सफल नहीं हो सकती है। बाजवा ने कहा कि पूर्व और पश्चिम एशिया में संपर्क बनाना और उसे दक्षिण और मध्य एशिया की क्षमता को खोलने के लिए दोनों देशों के बीच शांति का माहौल होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि यह क्षेत्रीय तनाव है।

सुरक्षा और विकास जम्मू-कश्मीर के समाधान पर टिका: पाक विदेश मंत्री

बाजवा के बाद विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि दक्षिण एशिया में स्थायी शांति, सुरक्षा और विकास जम्मू-कश्मीर के शांतिपूर्ण समाधान पर टिका है। इसके लिए भारत को सही वातावरण तैयार करना होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि इमरान खान के नेतृत्व में नया पाकिस्तान अन्य देशों के साथ संपर्क स्थापित करने, क्षेत्र में शांति बनाए रखने और आर्थिक संबंधों को बनाने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है।

भारत को आर्थिक लाभ मिलेगा: इमरान खान

इससे पहले बुधवार को कुछ इस तरह के बयान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने दिया था। उन्होंने कहा था कि उनके मुल्क के साथ शांति रखने पर भारत को आर्थिक लाभ मिलेगा। भारत को पाकिस्तान के रास्ते संसाधन बहुल मध्य एशिया में सीधे पहुंचने की मदद मिलेगी। इसके अलावा खान ने कहा था कि भारत को पहला कदम उठाना होगा। जब तक वे ऐसा नहीं करेंगे, हम ज्यादा कुछ नहीं कर सकते।

भारत ने कहा था- पाकिस्तान पर है आतंक मुक्त माहौल बनाने की जिम्मेदारी

पिछले महीने भारत की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया था कि आतंक और शत्रुता मुक्त माहौल तैयार करने की जिम्मेदारी पाकिस्तान की है। आतंकवाद और वार्ता साथ- साथ नहीं चल सकते। साथ ही भारत में हुए आतंकी हमलों के जिम्मेदार संगठनों के खिलाफ ऐसे कदम उठाए, जो साफ तौर पर नजर आएं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Other From The World

Related Posts

Treading News

Latest Post

Unlawful shops will open in Jalandhar from 9 am to 3 pm from Monday to Friday, if the Corona precautions are broken, the shop will be sealed for 7 days | जालंधर में सोमवार से शुक्रवार सुबह 9 से दोपहर 3 बजे तक खुलेंगी गैरजरूरी दुकानें, कोरोना सावधानियां तोड़ी तो 7 दिन के लिए सील होगी दुकान

After the meeting with the minister, the strike of the revenue officers of Punjab postponed till 21, there will be a registry in the tehsils from Thursday. | मंत्री गुरप्रीत कांगड़ के साथ बैठक के बाद पंजाब के रेवेन्यू अफसरों की हड़ताल 21 तक टली, गुरुवार से तहसीलों में होगी रजिस्ट्री